ज्वाइन करे टेलीग्राम ग्रुप

Join Our Group
Join Telegram

Gaon ki Beti Yojana 2023: सरकार दे रही है छात्रों को ₹5000 की स्कॉलरशिप,यहाँ से करें ऑनलाइन आवेदन

Gaon ki Beti Yojana 2023 | gaon ki beti form | गांव की बेटी योजना | Gaon Ki Beti scheme | Gaon Ki Beti online Apply |

Gaon Ki Beti Yojana 2023: मध्य प्रदेश सरकार ने राज्य की छात्राओं के लिए एक नई छात्रवृत्ति योजना की शुरुआत की है इस सरकारी योजना का नाम गांव की बेटी योजना रखा गया है इस योजना के माध्यम से गांव की सभी विद्यार्थियों को प्रोत्साहन की राशि प्राप्त कराई जाती है ताकि वह आगे की पढ़ाई भी कर सके जिसके तहत राज्य सरकार सभी प्रतिभाशाली छात्राओं को वित्तीय सहायता प्रदान करेगी इस गांव की बेटी योजना का उद्देश्य ग्रामीण क्षेत्रों में प्रतिभाशाली बालिकाओं को उच्च शिक्षा प्राप्त कर आना है और प्रोत्साहित करने के लिए आर्थिक सहायता प्रदान करना है।

ज्वाइन करे टेलीग्राम ग्रुप

Gaon ki Beti Yojana 2023

गांव की बेटी स्कीम के माध्यम से सभी बालिकाओं को प्रति वर्ष ₹5000 की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी राज्य के हर गांव से प्रतिवर्ष 12वीं कक्षा प्रथम श्रेणी में उत्तरण करने वाली बालिकाओं को 500 रुपए प्रतिमाह की दर से दिया जाएगा और यह राशि प्रति वर्ष के रूप में 5000 रुपए हो जाती है अर्थात छात्रों को 5000 रुपए की आर्थिक सहायता प्रतिवर्ष इस स्कीम के माध्यम से की जाएगी जिसके लिए सभी इच्छुक बालिकाएं आवेदन भी कर सकती हैं।

मध्य प्रदेश सरकार एमपी गांव की बेटी योजना ऑनलाइन पंजीकरण फॉर्म Scholarshipportal.mp.mic.in पर आमंत्रित कर रही है ग्रामीण क्षेत्रों की सभी प्रतिभाशाली छात्राएं जिन्होंने 12वीं की कक्षा में न्यूनतम 60% से अधिक अंक प्राप्त किए हैं या 60% अंक प्राप्त कर लिए हैं वे सभी बालिकाएं इस योजना के लिए पात्र मानी जाएगी और इस स्कीम के तहत अपना आवेदन कर सकती हैं।

Gaon Ki Beti Yojana 2023,गांव की बेटी योजना
Gaon Ki Beti Yojana 2023

Gaon ki Beti Yojana 2023 Highlights

राज्य का नाम  मध्य प्रदेश राज्य
आर्टिकल का नाम Gaon Ki Beti Yojana 2023
आर्टिकल का प्रकार सरकारी योजना
कौन आवेदन कर सकता है?  मध्य प्रदेश राज्य की सभी योग्य छात्रायें इस योजना में आवेदन कर सकती है।
शैक्षणिक योग्यता क्या चाहिए ? सभी छात्रायें 60 प्रतिशत अंको के साथ 12वीं कक्षा पास होनी चाहिए।
प्रतिमाह कितने रुपयों की स्कॉलरशिप प्रदान की जायेगी? 500 रुपय प्रतिमाह की दर से 10 माह तक स्कॉलरशिप प्रदान की जायेगी।
सालाना कितने रुपयों की स्कॉलरशिप प्रदान की जायेगी? ₹5,000 रुपया 
योजना के तहत पंजीकरण प्रक्रिया को कब से शुरु किया जायेगा? जल्द ही सूचित किया जायेगा।
आधिकारीक वेबसाइट https://scholarshipportal.mp.nic.in/

Gaon ki Beti Yojana 2023 का उद्देश्य

ग्रामीण क्षेत्रों की प्रति भावना लड़कियों को उच्च शिक्षा प्राप्त कराने की और प्रोत्साहित करने के लिए आर्थिक सहायता प्रदान करना है प्रत्येक गांव में से प्रति वर्ष 12वीं की कक्षा प्रथम श्रेणी में उत्तीर्ण करने वाली छात्राओं को हर वर्ष 5000 रुपए की आर्थिक सहायता प्रदान करना है जो भी बालिकाएं प्रथम श्रेणी से उत्तीर्ण है वे सभी इसके लिए पात्र हैं।

12वीं की कक्षा में उत्तीर्ण हुए सभी बालिकाएं जिन्होंने अपना 12वीं की पढ़ाई पूरी कर ली है और गांव में रहने वाली है तो आप सभी इस योजना के अंतर्गत अपना आवेदन जल्द से जल्द कर ले और प्रति महीना 500 रुपए की राशि प्राप्त करें यह गांव की बेटी योजना उन लड़कियों के लिए है जिन्होंने 12वीं की परीक्षा में 60% से अधिक अंक प्राप्त किए हैं।

WhatsApp Group (Join Now) Join Now
Telegram Group (Join Now) Join Now

वह ग्रामीण क्षेत्रों से संबंधित रहनी चाहिए तथा वे सभी बालिकाएं मध्य प्रदेश की स्थाई रूप से होनी चाहिए ग्रामीण क्षेत्रों की सभी प्रतिभाशाली महिलाओं में द्वार जो छात्रवृत्ति लाभ प्राप्त करना चाहती है उन्हें एमपी गांव की बेटी छात्रवृत्ति ऑनलाइन पंजीकरण भरना होगा तभी इस योजना के लिए आप पात्र होंगे इस स्कीम का लाभ केवल बालिकाओं के लिए ही जारी किया गया है।

ऍम पी गांव की बेटी योजना क्या है ?

मध्य प्रदेश में बहुत से छोटे-छोटे गाँव है, जहाँ पर कई मेधावी बालिकाएं होती हैं। बारहवीं पास होने के बाद भी छात्राओं को पढ़ने की इच्छा होती है लेकिन कॉलेज, उनके गाँव से दूर शहरों और जिलों में होते हैं। कई गरीब परिवारों में ऐसी आर्थिक स्थिति नहीं होती हैं कि वह बालिकाओं की उच्च शिक्षा का खर्च उठा सके। इस वजह से प्रतिभावान छात्राओं के विकास का रास्ता बंद हो जाता है।

इसलिए गांव की बेटी योजना को मध्यप्रदेश की सरकार के द्वारा शुरू किया है, ताकि राज्य की सभी गांव की बेटियों को शिक्षा प्राप्त करने में तकलीफ न हो। Gaon Ki Beti online Form भरने के बाद स्कॉलरशिप के जरिये सभी बेटियां अपनी पढ़ाई जारी रख पायेगी।

इस योजना Madhya Pradesh Scholarship Portal 2.0

सभी गांव की बेटिया जिन्होंने अपनी 12वीं कक्षा तक की पढ़ाई पूरी की है, उन्हें अपनी आगे की उच्च शिक्षा में सहायता देने के लिए यह छात्रवृत्ति प्रदान की जाती है। गांव की बेटी योजना के जरिये गांव की बेटिया अपनी इस योजना से प्राप्त राशि को अपनी पढ़ाई में लगाएगी। इससे बेटीयाँ पढ़ाई सम्बन्धी समस्याए भी दूर करेगी और आत्मनिर्भर बन खुद के दम पर आगे बढ़ सकेगी।

मध्य प्रदेश गांव की बेटी योजना का लाभ?

  • हर गांव में मेधावी लड़कियां हैं। बारहवीं पास करने के बाद वह कॉलेज में पढ़ना चाहती है, लेकिन कॉलेज शहरों और कस्बों में होते हैं, साथ ही, ज्यादातर परिवार लड़कियों की कॉलेज शिक्षा का खर्च उठाने की स्थिति में नहीं होते हैं, उस स्थिति में, यह योजना उनकी मदद करेगी।
  • गाँव की बेटी छात्रवृत्ति योजना का मुख्य उद्देश्य लड़कियों की शिक्षा का स्तर बढ़ाना है।
  • सरकार का मानना ​​है कि अगर उन्हें वित्तीय सहायता दी जाती है, तो वे आगे बढ़ सकते हैं।
  • लड़कियां अपने माता-पिता पर बोझ नहीं बनेंगी, जिसके कारण लड़कियों का जनगणना में विकास होगा।
  • सरकार का मानना ​​है कि अगर लड़कियां अपने पैरों पर खड़ी होती हैं। तब वह किसी पर निर्भर नहीं होगी और उसे किसी वित्तीय समस्या का सामना नहीं करना पड़ेगा।
  • योजना का उद्देश्य उच्च शिक्षा हासिल करने के लिए ग्रामीण क्षेत्रों की प्रतिभाशाली लड़कियों को प्रोत्साहित करने के लिए वित्तीय सहायता प्रदान करना है।
  • इसके अंतर्गत प्रति माह 500 रुपये की दर से 10 महीने के लिए छात्रवृत्ति दी जाती है। जो छात्राएं से 12 वीं कक्षा उत्तीर्ण करती हैं उनको इसका लाभ प्रदान किया जाता है।
  • अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति/अन्य पिछड़ा वर्ग और सामान्य वर्ग की छात्राएं इस योजना का लाभ ले सकती हैं।

मुख्यमंत्री गांव की बेटी योजना स्कॉलरशिप फॉर्म के रिजेक्ट होने और स्कालरशिप नहीं आने के कारण!

  • यदि आपके माता पिता का आय प्रमाण पत्र 3 साल से अधिक पुराना है, तो आपका फॉर्म रिजेक्ट हो सकता है क्योकि आय प्रमाणपत्र 3 साल के अन्दर बना हुआ होना आवश्यक है।
  • पहले वर्ष की स्कॉलरशिप लेने के बाद यदि आपने कॉलेज छोड़ दिया है और फिर अगले साल फिर से कॉलेज में प्रवेश लिया है। तब फिर से अप्लाई करने पर आपका फॉर्म रिजेक्ट हो जायेगा।
  • Scholarship Form भरते कुछ गलत जानकारी देने पर भी आपका फॉर्म रिजेक्ट हो जायेगा और आपकी स्कॉलरशिप नहीं आएगी।
  • कई बार ट्रांजेक्शन नहीं होने पर बैंक अकाउंट डीएक्टिवेट या बंद हो जाता है यदि इस वजह से भी स्कालरशिप नहीं आती है।
  • फॉर्म भरने से पहले अपने बैंक अकाउंट से एक ट्रांजेक्शन करके जरूर देखें।
  • आपके द्वारा बैंक अकाउंट नंबर गलत दर्ज करने पर या आईएफएससी कोड गलत भरने पर भी स्कालरशिप नहीं आती है।
  • जो बैंक अकाउंट आपने फॉर्म में दिया है यदि वो किसी और के नाम पर है तो भी स्कालरशिप नहीं आएगी। बैंक अकाउंट आपके नाम से होना आवश्यक है।
  • आपने बैंक का नाम तो दर्ज कर दिया है, लेकिन आपने आईएफएससी कोड किसी और बैंक का दर्ज कर दिया हैं, तो भी आपका फॉर्म रिजेक्ट हो जायेगा।

गांव की बेटी योजना के लाभ तथा विशेषताएं?

  • मध्य प्रदेश के उच्च शिक्षा विभाग द्वारा गांव की बेटी योजना का शुभारंभ किया गया है।
  • इस योजना के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्र की बालिकाओं को उच्च शिक्षा प्राप्त करने के लिए प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से छात्रवृत्ति प्रदान की जाएगी।
  • यह छात्रवृत्ति ₹500 प्रति माह की दर से 10 माह तक प्रतिवर्ष प्रदान की जाएगी।
  • गांव की वह प्रत्येक बालिका जिसमें 12वीं कक्षा प्रथम श्रेणी से उत्तीर्ण की है उनको इस योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा।
  • इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए छात्रों को किसी भी सरकारी कार्यालय के चक्कर काटने की आवश्यकता नहीं है।
  • स्टेट स्कॉलरशिप पोर्टल पर पंजीकरण करके इस योजना का लाभ प्राप्त किया जा सकता है।
  • इससे समय और पैसे दोनों की बचत होगी तथा प्रणाली में पारदर्शिता आएगी।
  • इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए छात्राओं को अपनी समग्र आईडी दर्ज करने अनिवार्य है।

गांव की बेटी योजना 2023 आवश्यक दस्तावेज

इस योजना मे आवेदन करने के लिए आप सभी छात्राओं को कुछ दस्तावेजो की पूर्ति करनी होगी जो कि, इस प्रकार से हैं:-

  • आवेदक छात्रा का आधार कार्ड
  • बैंक खाता पासबुक
  • आय प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • जन्म प्रमाण पत्र
  • समग्र आई.डी
  • 10वीं व 12वीं कक्षा के सभी अंक पत्र व प्रमाण पत्र
  • Current College Code
  • Branch Code
  • Email ID
  • Active Mobile Number and
  • Latest Passport Size Photograph Etc.

Gaon ki Beti Yojana 2023 के लिए पात्रता

राज्य सरकार की इस योजना का लाभ उठाने के लिए छात्राओं को कुछ प्रमुख पात्रता मानदंडों को पूरा करना होगा जो की कुछ इस प्रकार से है।

  • छात्रा मध्यप्रदेश के ग्रामीण क्षेत्र की निवासी होनी चाहिए।
  • छात्रा ने कक्षा 12 की परीक्षा में 60% या इससे अधिक अंक प्राप्त किये हों।
  • आवेदक के पास जाती प्रमाण पत्र होना चाहिए
  • आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग और बीपीएल परिवारों की छात्रा इस योजना के लिए योग्य हैं।
  • केवल बलिकाएं ही योजना के लिए पात्र हैं।

How To Apply Online in Gaon ki Beti Yojana 2023

इस स्कीम के अंतर्गत आप लोग अपना आवेदन कैसे कर सकते हैं इसकी जानकारी हम आपको नीचे से 22 से प्रदान करने जा रहे हैं चलिए दोस्तों जानते हैं कि कैसे हम अपना आवेदन ऑनलाइन की सहायता से कर सकते हैं अपने स्मार्टफोन के जरिए.

  • आवेदन करने के लिए सर्वप्रथम आपको इसकी ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने एक होम पेज ओपन होगा।
  • होम पेज पर आपको स्टूडेंट लॉगइन के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको रजिस्टर के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसके पश्चात आपके सामने रजिस्ट्रेशन फॉर्म खोल कर आएगा।
  • आपको फॉर्म में पूछ गई सभी महत्वपूर्ण जानकारी जैसे कि आपका नाम, मोबाइल नंबर, ईमेल आईडी आदि दर्ज करना होगा।
  • अब आपको सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को अपलोड करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको सबमिट के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपको अपना यूजरनेम पासवर्ड तथा कैप्चा कोड दर्ज करके लॉगइन करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको गांव की बेटी योजना के अंतर्गत आवेदन करें के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने आवेदन फॉर्म खुलकर आएगा।
  • आपको फॉर्म में पूछी गई सभी महत्वपूर्ण जानकारी दर्ज करनी होगी।
  • अब आपको सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को अपलोड करना होगा।
  • इसके पश्चात आपको सबमिट के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इस प्रकार आप गांव की बेटी योजना के अंतर्गत आवेदन कर सकेंगे।

सारांश (Summary)

तो दोस्तों आपको कैसी लगी यह Gaon ki Beti Yojana 2023 कि जानकारी तो हमें कमेंट बॉक्स में बताना न भूलें और अगर आपका इस लेख से जुड़ा कोई सवाल या सुझाव है तो हमें जरूर बताएं। और दोस्तों अगर आपको यह आर्टिकल पसंद आया हो तो इसे लाइक और कमेंट करें और दोस्तों के साथ शेयर भी करें।

(FAQs)? Gaon ki Beti Yojana 2023

✅गांव की बेटी योजना क्या है?

Ans: राज्य सरकार की इस Gaon Ki Beti Yojana का उद्देश्य ग्रामीण क्षेत्रों की प्रतिभाशाली बालिकाओं को उच्च शिक्षा प्राप्त करने की ओर प्रोत्साहित करने के लिए आर्थिक सहायता प्रदान करना है।

✅गांव की बेटी योजना कब प्रारंभ हुई?

Ans: दिनांक : 01/06/2005 – | सेक्टर: गाँव में रहकर गाँव की पाठशाला से 12 वीं कक्षा न्यूनतम 60 प्रतिशत अंकों से उत्तीर्ण होकर शासकीय/अशासकीय महाविद्यालय या विश्वविद्यालय में स्नातक कक्षा में अध्ययनरत हो। सभी वर्ग की छात्राओं को लाभ दिया जाता है। छात्रा गाँव की निवासी हो।

ज्वाइन करे टेलीग्राम ग्रुप

✅गांव की बेटी छात्रवृत्ति योजना किस राज्य में लागू है?

Ans: गांव की बेटी योजना अभी मध्यप्रदेश राज्य में लागू है इस योजना का लाभ सिर्फ मध्य प्रदेश के गांव में निवास करने वाली बालिकाएं ही ले सकती हैं।

Ignore Tag: Gaon Ki Beti online,Gaon Ki Beti online,Gaon Ki Beti scheme,Gaon Ki Beti scheme,Gaon Ki Beti scheme,Gaon Ki Beti scheme,gaon ki beti form,gaon ki beti form,gaon ki beti form

Leave a Comment