ज्वाइन करे टेलीग्राम ग्रुप

अब आप घर बैठे ही जाती, आय और निवास प्रमाण पत्र उमंग ऐप के जरिए मात्र ₹15 में

UMANG APP: लखनऊ, जेएनएन। राजसव विभाग की ओर से अभी तक की ई – रजिस्ट्री का पोर्टल और e-sathi के माध्यम से जनसेवा केंद्रों के जरिए उपलब्ध कराई जा रही है अब आप जाति, आय एवं निवास प्रमाण पत्र कराने की सेवाएं मोबाइल ऐप के जरिए सुलभ हो गई। e-district पोर्टल पर उपलब्ध इन सेवाओं को वेब सर्विस के माध्यम से उमंग मोबाइल एप के इंटीग्रेट कर दिया गया है जिसकी टेस्टिंग सफलतापूर्वक हो गई है। RTPS Bihar Online Apply 2022 | service plus |

प्रमुख सचिव राजसव सुधीर गर्ग की ओर से समस्त अपर मुख्य सचिव व प्रमुख सचिव मंडल इस बारे जिला अधिकारियों की इस बारे सारी जानकारी दे दिए गई है। उमंग जाति एवं निवास प्रमाण पत्र जैसी सेवाओं को आवेदन के लिए
आपसे ₹15 लिया जाएगा जिसका अर्थ विभाजन आईटीआई इलेक्ट्रॉनिक्स विभाग द्वारा जारी आदेश के रूप किया जाएगा ।

join telegram channel

ज्वाइन करे टेलीग्राम ग्रुप

RTPS Bihar Online Apply 2022?

राष्ट्रीय ई-गवर्नेंस डिवीजन, इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा बनाया गया उमंग बहुमुखी एप्लिकेशन, 23 नवंबर, 2017 को प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा शुरू किया गया था। उमंग एप्लिकेशन का मूल लक्ष्य प्रशासन को सुलभ बनाना है। सार्वजनिक प्राधिकरण द्वारा सामान्य समाज को एकांत मंच पर दिया जाता है, इसलिए प्रत्येक प्रशासन विभिन्न डिवीजनों के अनुप्रयोगों का उपयोग किए बिना, एक अकेले आवेदन में समग्र आबादी के लिए सुलभ हो सकता है। इस पोर्टेबल एप्लिकेशन के माध्यम से, निवासी केंद्र और राज्य सरकारों के विभिन्न प्रशासनों का लाभ उठा सकते हैं।

RTPS Bihar Online Apply

RTPS Bihar Online Apply Important Link

New ID Registration Click Here
Service Plus Login Click Here
Jati Praman Patr Online Apply Apply Now
Awasiya (Niwas) Online Apply Apply Now
Aay  Online Apply Apply Now
Character Certificate Online Apply Click Here
Track Application Status Click Here
Caste Certificate Online Status Click Here
Download Certificate Click Here
New Website RTPS Click Here
Official Website Click Here
Bihar Official Website Click Here

UTTAR PRADESH: राजस्व विभाग (आय, जाति और निवास) के प्रशासन को पिछले काफी समय से ई-क्षेत्र गेटवे / ई-साथी के माध्यम से राज्य में निर्धारित सभी जन सहायता समुदायों द्वारा समग्र आबादी के लिए सुलभ बनाया जा रहा है।

इस व्यवस्था में ई-क्षेत्र गेटवे पर उपलब्ध इन प्रशासनों को एपीआई/वेब सेवा के माध्यम से उमंग पोर्टेबल एप्लिकेशन पर समन्वयित किया गया है, जिसे प्रभावी ढंग से आजमाया भी गया है। यह जानकारी प्रमुख सचिव राजस्व द्वारा अपर मुख्य सचिवों, प्रमुख सचिवों, सचिवों, संभागीय आयुक्तों और जिलाधिकारियों को इस तरह से संबोधित एक अच्छा के माध्यम से दी गयी है।

ऑनलाइन यूपी आय जाति निवास प्रमाण पत्र कैसे बनाएं?

उत्तर प्रदेश के सरकार द्वारा प्रदेश के सभी नागरिकों को इतनी सुविधा दी जा रही है कि वहां सभी कार्यों को घर बैठे ही अपने मोबाइल या लैपटॉप से कर सकते हैं। उत्तर प्रदेश में सरकारी कामों का ऑनलाइन कर दिया गया है नगर विकास विभाग हो या फिर राजसव विभाग के सारे काम अब ऑनलाइन कर दिए गए हैं

उमंग ऐप पर मिलेगा हर सुविधा

UMANG ऐप का मूल लक्ष्य G2-C प्रशासन को समग्र आबादी को एक ही चरण में देना है, ताकि प्रत्येक प्रशासन विभिन्न डिवीजनों के अनुप्रयोगों का उपयोग किए बिना, एक एकान्त अनुप्रयोग में रोज़मर्रा के व्यक्ति के लिए सुलभ हो सके। इस बहुमुखी एप्लिकेशन के माध्यम से, निवासी केंद्र और राज्य सरकार के विभिन्न करदाताओं द्वारा संचालित संगठनों को लाभान्वित कर सकते हैं।

join telegram channel

बिहार आय जाति निवास अप्लाई ऑनलाइन 2022?

बिहार हो या देश का कोई भी हाल, हर जगह इनकम कास्ट रेजिडेंस सर्टिफिकेट बनाना जरूरी हो गया है। वेतन जाति निवास प्रमाण पत्र वर्तमान में स्कूल, काम या किसी में भी सरकारी साजिश का फायदा उठाने में मददगार साबित हो रहा है। यदि आपके पास ये तीन नियम नहीं हैं, तो आपको कई प्रशासनिक योजनाओं का लाभ उठाने से वंचित किया जा सकता है। पुराने जमाने में बिहार आय जाति निवास प्रमाण पत्र बनवाने के लिए नागरिकों को सरकारी दफ्तरों का चक्कर लगाना पड़ता था, फिर वहां-वहां लोगों की यह सूची तैयार की जाती थी। इन घोषणाओं को कराने में लोगों के समय और पैसे दोनों की कमी थी।

बिहार एक्सप्रेस के निवासियों के लिए इस मुद्दे को ध्यान में रखते हुए, बिहार राज्य सरकार ने बिहार में वेतन रैंक होम प्रमाणीकरण आवेदन का पाठ्यक्रम ऑनलाइन कर दिया है। इसके लिए बिहार सरकार ने नाम से इस पोर्टल को शुरू किया है, इस पोर्टल के माध्यम से बिहार का कोई भी निवासी अब घर बैठे अपना बिहार आय जाति निवास ऑनलाइन प्रभावी रूप से लागू कर सकता है। वर्तमान में राज्य के किसी भी निवासी को इन घोषणाओं को करवाने के लिए सरकारी कार्यालयों के चक्कर नहीं लगाने पड़ेंगे।

उमंग उमंग ऐप में कितनी भाषाओं को सपोर्ट करता है

यह वर्तमान में 13 बोलियों में उपलब्ध है। इनमें अंग्रेजी, हिंदी, असमिया, गुजराती, बंगाली, कन्नड़, उड़िया, पंजाबी, मलयालम, मराठी, तमिल, तेलुगु और उर्दू शामिल हैं। हाल ही में EPFO ​​ने UMANG एप्लिकेशन पर अपने प्रशासन को सुलभ बनाने की घोषणा की है। इस एप्लिकेशन की सहायता से आप भारत, इंडेन और एचपी सहित सभी संगठनों के गैस चैंबर बुक कर सकते हैं।

उमंग में सुरक्षा उपायों का क्या उपयोग किया गया है?

  • उमंग नवीनतम उद्योग दिशानिर्देशों का उपयोग करता है, उदाहरण के लिए, एमपिन और ओटीपी सुरक्षा प्रयास के रूप में।
  • MPIN के अलावा, सुरक्षा प्रश्न के रूप में सुरक्षा की एक अतिरिक्त परत की गारंटी दी गई है, जिसके कारण आपके UMANG खाते की सूक्ष्मताएं कभी भी किसी को ज्ञात नहीं हो सकती हैं। यदि आप अपना एमपिन याद रखने में विफल रहते हैं तो सुरक्षा प्रश्न आवश्यक है।
  • इसके अलावा, क्लाइंट के प्रोफाइल की सूक्ष्मताएं एक स्क्रैम्बल कॉन्फ़िगरेशन में फ्रेमवर्क में सहेजी जाती हैं ताकि कोई भी उन्हें समझ न सके।
  • इसके अलावा, क्लाइंट का अपने गैजेट की आवश्यकताओं के आलोक में एप्लिकेशन में सुरक्षा स्तर पर कुछ नियंत्रण होता है। आप अपनी सुरक्षा सेटिंग्स को बदलने के लिए नेविगेशन ड्रॉअर > सेटिंग्स > खाता सेटिंग्स पर जा सकते हैं।

किस तरह से मैं अपना उमंग अकाउंट बंद कर सकता हूं?

निम्नलिखित पाठ्यक्रम द्वारा “सेटिंग” के तहत खाता निष्कर्ष विकल्प प्राप्त किया जा सकता है: सेटिंग्स> खाता सेटिंग> मेरा उमंग खाता हटाएं। ‘मेरा उमंग खाता मिटाएं’ विकल्प चुनने के बाद, आपकी सभी सेटिंग्स, उमंग खाता विवरण, नकद और इसके अलावा आपका आधार और सामाजिक प्रोफ़ाइल डी-कनेक्ट हो जाएगा। आपको इस रिकॉर्ड में एक बार फिर साइन इन करने की अनुमति नहीं दी जाएगी। उमंग के प्रशासन को लाभ पहुंचाने के लिए आप एक और उमंग खाता खोलना चाहते हैं। इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद आपको कैसा लगा हमे कॉमेंट जरूर बताएं।

Bihar के नागरिकों को सरकार द्वारा दी जाने वाली विभिन्न प्रकार की सुविधाओं का लाभ उठाने के लिए एक जाति, आय और निवास प्रमाण पत्र प्राप्त करने की आवश्यकता है। विशेष रूप से OBC और Sc-St प्रमाण पत्र के लिए सबसे जरूरी दस्तावेज है आमतौर पर, जाति, आय और निवास प्रमाण पत्र राज्य और केंद्र सरकार की योजना और छात्रवृत्ति से पैसा प्राप्त करने के समय की आवश्यकता होती है। RTPS Service Plus Online रिपॉजिटरी में सभी संलग्नक / दस्तावेजों का प्रबंधन और रखरखाव करते हैं और उन्हें सभी सेवाओं में उपयोग करते हैं RTPS Bihar Online Apply | 

Bihar RTPS सेवा प्रमाणपत्र

  • अब हम आपको प्रमाणपत्रों के बारे में थोड़ी सी जानकारी देंगे जो आपको Bihar RTPS सेवा की वेबसाइट पर मिल जाएगी।
  • जाती प्रमाणपत्र : भारत सरकार के द्वारा जाती प्रमाणपत्र देश के जो अनुसूचित जाती, अन्य पिछड़ा वर्ग और अनुसूचित जन जाति है उन लोगो के लिए जारी किया गया है। जाती प्रमाणपत्र के बिना लोगो को अनारक्षित/सामान्य श्रेणी माना जाता है।
  • आय प्रमाण पत्र : राज्य सरकार आय प्रमाणपत्र को जारी करता है। जो कि स्रोतों से किसी व्यक्ति की साल की आय को प्रमाणित करता है। आय प्रमापत्र बहुत ही ज्यादा महत्वपूर्ण है। क्युकी यह EWS Certificate के लिए आवश्यक है।
  • निवास प्रमाण पत्र : यह प्रमाणपत्र राज्य के लोगो के वहां के स्थायी निवासी होने का प्रमाणपत्र है। अगर आप सरकारी नौकरी के लिए जाते है तब आपसे यह प्रमाणपत्र मांगा जाता है।
  • अगर आपको कोई भी Documents Resize करना है तो आप इस वेबसाइट Photo/Signature resize के थ्रू कर सकते हैं | service plus, service plus, service plus, service plus

service plus

How can I check my Bihar Awasiya online?

Step 1- Visit the Official Website of RTPS Bihar i.e. http://210.212.23.51/rtps/Home.aspx. Step 2- On the homepage, you have to click on the application status option. Step 3- On this page, you have to fill your application ID. After this, you have to click on the status option

ज्वाइन करे टेलीग्राम ग्रुप

How can I track my EWS certificate in Bihar?

Visit Official’s Portal https://serviceonline.bihar.gov.in/officials for Application Processing

How can I check my caste certificate validity in Bihar?

In order to obtain caste validity certificate, applicant shall go to the respective Tehsil / Revenue / SDM OfficeOR the respective office of “department of welfare for backward classes”as applicable. Link for contact details : link. Also for Panchayat level the following link will be useful

Leave a Comment